बच्चा करे पीठ दर्द की शिकायत तो न करें नजर अंदाज

क्या आपका युवा होता बच्चा अक्सर कमर दर्द की शिकायत करता है? अगर ऐसा है तो अलर्ट हो जाइए, ऐसे में वह स्मोकिंग और ड्रिंकिंग की तरफ ज्यादा झुकाव महसूस कर सकता है। इतना ही नहीं उसे ऐंग्जाइटी और अवसाद जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं।

हालांकि अक्सर लोग इसे मामूली समझकर अक्सर इस पर ध्यान नहीं देते लेकिन कुछ युवा बच्चों को होने वाला कमरदर्द उनकी रोजमर्रा की जिंदगी, पढ़ाई और उनके स्वास्थ्य पर प्रभाव डालता है हालांकि अक्सर लोग इसे मामूली समझकर अक्सर इस पर ध्यान नहीं देते लेकिन कुछ युवा बच्चों को होने वाला बैकपेन उनकी रोजमर्रा की जिंदगी, पढ़ाई और उनके स्वास्थ्य पर प्रभाव डालता है।

अध्यान में पता चला कि दर्द की फ्रीक्वेंसी जितनी बढ़ी उसी अनुपात में स्मोकिंग, ड्रिंकिंग और स्कूल मिस करने के मामले सामने आए। 14-15 साल के जिन बच्चों को हफ्ते में 2-3 बार से ज्यादा बार दर्द हुआ, वे दर्द न होने वाले बच्चों की अपेक्षा 2-3 गुना ज्यादा ड्रिंक और स्मोकिंग करते पाए गए। इसी तरह जिन बच्चों को हफ्ते में एक बार से ज्यादा दर्द हुआ उन्होंने दोगुना स्कूल मिस किया।